Health Today's report

राम रहीम से मुलाकात को बेताब है हनीप्रीत, डीजीपी जेल को पत्र लिखकर मांगी इजाजत

चंडीगढ़, 13 नवम्बर ( टीपीई ब्यूरो ) । पंचकूला हिंसा मामले में जेल से रिहा होने के बाद डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम की दत्तक पुत्री हनीप्रीत ने राम रहीम से मुलाकात के लिए एडी-चोटी का जोर लगा दिया है। हनीप्रीत ने बुधवार को हरियाणा जेल विभाग के महानिदेशक को एक पत्र भी लिखा है। हनीप्रीत को अगर राम रहीम से मुलाकात का समय नहीं मिलता है तो वह अदालत की शरण में भी जा सकती है।
पंचकूला हिंसा मामले में पुलिस द्वारा दर्ज की गई एफआईआर में हनीप्रीत उर्फ प्रियंका तनेजा को मुख्य साजिशकर्ता करार देकर देशद्रोह समेत कई धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया था। बाद में पुलिस यह आरोप साबित नहीं कर पाई। जिसके चलते हनीप्रीत के विरूद्ध देशद्रोह की धारा समाप्त हो गई। जिसके बाद पुलिस का केस ढीला पड़ता चला गया और हनीप्रीत को जमानत मिल गई।
जेल से बाहर आने के बाद हनीप्रीत राम रहीम से मुलाकात के लिए जुगत भिड़ानी शुरू कर दी है। रोहतक की सुनारियां जेल में मुलाकात के लिए सोमवार तथा बृहस्पतिवार के दिन निर्धारित हैं। हनीप्रीत ने जेल से रिहा होने के बाद अपने स्तर पर राम रहीम से मुलाकात का प्रयास किया लेकिन सुरक्षा कारणों के चलते जेल प्रशासन ने उसे मुलाकात की इजाजत नहीं दी। जिसके बाद हनीप्रीत ने आज जेल विभाग के महानिदेशक को एक पत्र लिखकर मुलाकात की इजाजत मांगी है।
अपने पत्र में हनीप्रीत उर्फ प्रियंका तनेजा ने दावा किया है कि वह राम रहीम की दत्तक पुत्री है। इसके अलावा राम रहीम ने सजा के समय जेल प्रशासन को मुलाकात के लिए अपने परिजनों की जो सूची दी थी उसमें भी हनीप्रीत उर्फ प्रियंका तनेजा का नाम शामिल था। इसी को आधार बनाते हुए हनीप्रीत ने जेल में मुलाकात की इजाजत मांगी है। बताया जाता है कि अगर जेल प्रशासन द्वारा उसे राम रहीम से मुलाकात की इजाजत नहीं दी जाती है तो वह इस मामले में अदालत का सहारा भी ले सकती है।

Related posts

13 killed, 150 injured in Delhi violence amid Trump’s visit

KomalSingla

NITI Aayog building sealed after employee tests Coronavirus positive

KomalSingla

Number of confirmed Coronavirus cases in India reaches 8356 with 273 deaths

KomalSingla

Leave a Comment