Hindi

जामा मस्जिद के शाही इमाम का बड़ा बयान, नागरिकता संसोधन कानून से मुसलमानों को डरने की जरूरत नहीं

Shahi Imaam 2

नई दिल्ली,18 दिसंबर – दिल्ली में नागरिकता कानून के खिलाफ जारी प्रदर्शन के बीच दिल्ली की जामा मस्जिद के शाही इमाम सैय्यद अहमद बुखारी का अहम बयान आया है। उन्होंने कहा है कि नागरिकता संसोधन कानून और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर में अंतर है। साथ ही कहा है कि नागरिकता संसोधन कानून तो बन गया है, लेकिन एनआरसी कानून नहीं बना है।

उन्होंने यह भी कहा कि विरोध प्रदर्शन करना हमारा अधिकार है और हमें इससे कोई वंचित कर सकता है। इसके साथ ही उन्होंने प्रदर्शनकारियों को यह भी नसीहत दी है कि प्रदर्शन के दौरान लोग अपनी भावनाओं पर नियंत्रण रखे।

गौरतलब है कि मंगलवार को पूर्वी दिल्ली के दरियागंज, जाफराबाद और सीलमपुर समेत आधा दर्जन इलाकों में विरोध प्रदर्शन हिंसक हो गया था। इस दौरान 20 से अधिक लोग घायल हुए तो कई वाहनों में भी तोड़फोड़ की गई।

Related posts

हरियाणा, आज़ाद विधायकों ने सरकार को आँखे दिखानी शुरू की।

NarinderJagga

लता मंगेशकर को लेकर सोशल मीडिया पर उड़ी अफवाह, टीम ने कहा-‘लता दीदी की हालत अभी स्थिर

NarinderJagga

दिल्ली और उत्तर भारत में महसूस किए गए भूकंप के झटके

KomalSingla

Leave a Comment